शोध: धूप में घूमेगी मुर्गी तो 30% ज्यादा पौष्ट‍िक होंगे अंडे

अगर सर्दियों में आप खाना खूब पसंद करते हैं तो फिर ये खबर आपके लिए है. खासतौर पर सर्दियों में लोग अंडा खाना इसलिए पसंद करते हैं क्योंकि ये पौष्टिक तत्वों से भरपूर होते हैं और विटामिन डी की मात्रा इनमें अच्छी होती है.
लेकिन क्या आप जानते हैं कि किस तरह के  ज्यादा विटामिन डी पाया जाता है. अगर यह जान जाएंगे तो आपको हैरानी होगी और इसी के साथ आप यह भी चेक करने लगेंगे कि यह अंडा कैसी मुर्गी ने दिया है! 
दरअसल, जो मुर्गियां धूप में ज्यादा रहती हैं उनके अंडे ज्यादा न्यूट्रिएंट्स वाले होते हैं और इनमें विटामिन डी की मात्रा भी दूसरे अंडों की तुलना में अधि‍क होती है. 
 
जी हां! थोड़ी हैरानी होगी लेकिन बात सोलह आने सच है. ये हम नहीं एक शोध कह रहा है. ऐसे में जरूरी हो जाता है हर छोटी-बड़ी बातों का ध्यान रखना. रीडिंग यूनिवर्सिटी ने 270  पर एक शोध किया जिसमें पाया कि जो मुर्गियां पिजड़ों और दड़बों से बाहर खुली हवा और धूप में रहती हैं, उनके अंडों में विटामिन डी ज्यादा पाया जाता है. जो मुर्गियां दिनभर पिंजरों में बंद रहती हैं, उनके दिए अंडों में विटामिन डी की मात्रा कम होती है. 

आॅर्गेनिक फार्म की मुर्गियां ज्यादातर खुले में रहती हैं. इसलिए शोध में कहा गया है की ऑर्गेनिक फार्म से आने वाले अंडों में 25 hydroxy D3 का स्तर ज्यादा होता है जो इंसानों की सेहत के लिए बेहतर है.
शोध ये भी बताता है क‍ि ‘फ्री-रेंज’  में 2 माइक्रोग्राम तक विटामिन डी होता है. वहीं आॅर्गेनिक अंडों में 2.2 माइक्रोग्राम और बाकी में 1.7 माइक्रोग्राम विटामिन डी पाया जाता है. 

कई गाइडलाइन्स बताती हैं की एक व्यस्क को रोजाना 10 माइक्रोग्राम विटामिन डी की जरूरत होती है. वहीं बच्चों को सिर्फ 7 से 8.5 माइक्रोग्राम ही जरूरी होता है.
वैसे बता दें कि‍ अंडे के अलावा विटामिन डी की सबसे ज्यादा मात्रा मछली जैसे टूना, सॉनमन और मारकेल में पाया जाता है. वहीं पनीर से भी विटामिन डी मिलता है.