बंगाल में ममता बनर्जी को फिर बड़ा झटका, पार्टी के 4 नेता भाजपा में शामिल

कोलकाता
बैरकपुर संसदीय क्षेत्र में तृणमूल कांग्रेस को शुक्रवार को फिर बड़ा झटका लगा। हालीशहर नगरपालिका के वाइस चेयरमैन देवाशीष दत्त उर्फ राजा दत्त समेत 4 पार्षदों ने तृणमूल कांग्रेस से नाता तोडक़र भाजपा का दामन थाम लिया। हुकुमचंद जूट मिल के गेट नम्बर-3 के सामने आयोजित सभा में सभी ने भाजपा प्रत्याशी अर्जुन सिंह की मौजदूगी में भगवा झंडा थाम लिया। अर्जुन सिंह के ‘पाला बदल’ से तृणमूल कांग्रेस पहले से बैरकपुर संसदीय क्षेत्र को लेकर चिंतित थी। मतदान से ठीक पहले पार्टी के उक्त चार पार्षदों की पल्टी ने तृणमूल कांग्रेस की चिंता और बढ़ा दी। राजनीति के जानकार इसे तृणमूल कांग्रेस के लिए बड़ा झटका बता रहे हैं। राजा दत्त के अलावा तृणमूल कांग्रेस के जो तीन पार्षद भाजपा में शामिल हुए उनके नाम बंधुगोपाल साहा, महादेव विश्वास और सुमिता विश्वास है।
—-
ममता बनर्जी के खिलाफ खोला मोर्चा
भाजपा का दामन थामने के साथ ही राजा दत्त ने ममता बनर्जी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। उन्होंने अभिषेक बनर्जी की संपत्ति का जिक्र करते हुए ममता बनर्जी को भ्रष्ट और ग²ार कहा तथा क्षेत्र की जनता व अपने समर्थकों से भाजपा के पक्ष में मतदान करने की अपील की। राजा दत्त ने कहा कि महज 8 सालों में ममता बनर्जी के भतीजे ‘अभिषेक बनर्जी’ की सपंत्ति इतनी अधिक बढ़ी है, जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती। कांग्रेस से अलग होकर तृणमूल कांग्रेस का गठन किया गया था। माकपा को सत्ता से बेदखल करने के लिए जोरदार संघर्ष किया गया, लेकिन आज तृणमूल कांग्रेस माकपा के नक्शेकमद पर चल रही है। पार्टी में आदर्श नाम की कोई चीज नहीं बची है। इसलिए मैंने पार्टी छोड़ दी।
—-
और कई होंगे भाजपा में शामिल
राजा दत्त ने कहा कि कोई तृणमूल कांग्रेस में नहीं रहेगा। जल्द ही तृणमूल कांग्रेस के और कई पार्षदों के साथ बड़ी संख्या में कार्यकर्ता भी भाजपा में शामिल होंगे। उल्लेखनीय है कि 6 मई को बैरकपुर संसदीय क्षेत्र में मतदान है।