न पटाखे बजे न मिठाइयां बंटीं, तो इसलिए सादगी से मना मोदी सरकार की प्रचंड जीत का जश्न

लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी एक बार फिर प्रचंड बहुमत के साथ केंद्र में सरकार बनाने जा रही है. जिसको लेकर बीजेपी गुजरात में एक बड़ा जश्न करने वाली थी. लेकिन आखिर मे नरेंद्र मोदी के साथ बीजेपी ने सादगी से जीत का जश्न मनाया.
गुजरात नरेंद्र मोदी का गृह राज्य है. ऐसे में लोकसभा चुनाव 2019 में प्रचंड बहुमत मिलने के बाद से ही गुजरात में एक बड़े जश्न की तैयारी थी. पीएम मोदी आज अहमदाबाद पहुंचे, जहां उन्होंने बीजेपी दफ्तर में पार्टी कार्यताओं से मुलाकात की और संबोधन किया. हालांकि उम्मीद थी कि इस दौरान मिठाइयां बांटी जाएंगी, पटाखे फोड़े जाएंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. दरअसल, सूरत हादसे के कारण पीएम मोदी के अहमदाबाद आगमन के बाद कोई बड़ा जश्न नहीं किया गया. सूरत के कोचिंग सेंटर में हुए हाल ही के हादसे को देखते हुए बीजेपी ने कोई बड़ा जश्न न करने का फैसला किया.
23 मई को लोकसभा चुनाव 2019 का परिणाम आया था और साल 24 मई को ही गुजरात के सूरत में एक बड़ा हादसा हो गया. सूरत के एक कोचिंग सेंटर में आग लगने की वजह से मासूम बच्चों समेत 20 से ज्यादा की मौत हो गई. इसके अलावा सूरत हादसे के कारण कई बच्चे घायल भी हो गए. गुजरात में संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सूरत की आग की घटना पर दुख जताया. इस घटना में 22 युवाओं की जान चली गयी थी. पीएम मोदी ने कहा कि उनकी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ है. पीएम ने कहा कि इस घटना में कई परिवारों के दीप बुझ गए. इस घटना पर जितना भी दुख जताया जाए, कम है.