जीवन में मात्र ये 2 ग्रह करते है सबसे ज्यादा उथल-पुथल, जिससे बनते हैं सुख-दुख का कारण

नमस्कार दोस्तों, जीवन में मात्र ये 2 ग्रह करते है सबसे ज्यादा उथल-पुथल, जिससे बनते हैं सुख-दुख का कारण…व्यक्ति की कुंडली में स्थित नौ ग्रह उसके जीवन पर अच्छा और बुरा प्रभाव डालते हैं। अगर ग्रहों की स्थिति ठीक हो तो इससे व्यक्ति के जीवन में खुशियों का संचार होता है वहीं ग्रहों की स्थिति ख्रराब होने पर व्यक्ति को अनेक प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

आपको बता दें कि ज्योतिष के अनुसार व्यक्ति के जीवन पर दो ग्रहों का प्रभाव सबसे अधिक पड़ता है। अगर इन दो ग्रहों में से एक भी कुंडली में दोषयुक्त होता है तो इससे व्यक्ति को पीडा सहनी पड़ती है। ये दो ग्रह हैं बृहस्पति और शनि, अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में बृहस्पति की दशा खराब होती है तो इससे व्यक्ति के रोजगार, विवाह और पारिवारिक जीवन में समस्याएं उत्पन्न होती हैं। वहीं अगर जातक की कुंडली में ये ग्रह उच्च स्थान पर हो तो व्यक्ति सुख पूर्वक अपना जीवन व्य​तीत करता है।

दूसरा ग्रह है शनि, अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि दोष हो तो व्यक्ति को प्रयास करने के बाद भी किसी भी कार्य में सफलता नहीं मिलती है और ​वह निर्धन हो जाता है। वहीं अगर किसी व्यक्ति पर शनि कृपा हो तो व्यक्ति को जीवन में किसी भी प्रकार की कमी का सामना नहीं करना पड़ता है।