पाकिस्तान देश जो इस समय पूरी तरीके से कर्ज में डूबा पड़ा है और जिसके आर्थिक हालात बिल्कुल भी सही नहीं है पाकिस्तान में महंगाई बढ़ती ही जा रही है और पाकिस्तानी रुपया गिरता ही जा रहा है वहां हालात अब बेकाबू होते जा रहे हैं जहां एक तरफ अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली सालाना आर्थिक मदद रोक दी है जिसके बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पाकिस्तान को कल से बचाने के लिए नई-नई कोशिशें कर रहे हैं और पाकिस्तान को पटरी पर लाने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन पाकिस्तान के लिए अब एक बहुत अच्छी खबर आई ।



बता दे आपको कि मुद्रा कोष पाकिस्तान को छह अरब डॉलर का राहत पैकेज देगा. इस बात की जानकारी पाकिस्तान के वित्त मंत्री ने एक सरकारी टीवी चैनल पर दी । वित्त मंत्रालय के प्रमुख अब्दुल हफीज़ शेख ने पाकिस्तान के सरकारी टीवी चैनल पर कहा, “आईएमएफ़ के कर्मचारियों के साथ हम एक समझौते पर पहुंचे हैं, जिसके तहत अगले तीन साल के लिए छह अरब डॉलर का क़र्ज़ दिया जाएगा. इस पैसे को कहां-कितना लगाना है ये देखना होगा, लेकिन हम कोशिश करेंगे कि कम आय वाले लोगों पर कम से कम बोझ पड़े ।


आईएमएफ़ ने कहा कि पाकिस्तान की सरकार ने महंगाई, उच्च कर्ज़ और सुस्त विकास की समस्याओं से निबटने की ज़रूरत को स्वीकार किया है । आईएमएफ़ ने कहा है कि वो देश में कर सुधारों का समर्थन करती है और इससे खर्च में बढ़ोतरी होगी । आईएमएफ़ ने अपनी वेबसाइट पर इस क़दम की घोषणा की है। उसने कहा, “पाकिस्तान आर्थिक चुनौतियों से जूझ रहा है. उसके विकास की रफ्तार धीमी हो गई है, महंगाई बढ़ गई है, वो कर्ज़ में डूब गया है और वैश्विक स्तर पर भी उसकी स्थिति अच्छी नहीं है ।