मोटापे से ग्रस्त हैं तो आपके लिए खुशखबरी है!

मानव शरीर में ग्रासनली के पास एक तंत्रिका होती है जो भूख लगने का संदेश दिमाग को देती है. वैज्ञानिकों ने पता लगाया है कि इस तंत्रिका को अगर फ्रीज कर दिया जाए मलतब किसी कृतिम साधन की मदद से दिमाग को संदेश देने से रोक दिया जाए तो इंसान को भूख ही नहीं लगेगी.
सोसाइटी ऑफ इंटरवेंशनल रेडियोलॉजी के एक शोध के मुताबिक अगर दिमाग को भूख का संदेश देने वाली तंत्रिकाओं को फ्रीज कर दिया जाए तो मनुष्य को भूख नहीं लगेगी. इससे उन लोगों को फायदा होगा जो लोग मोटापे से ग्रस्त हैं. अभी  तक ये इलाज सेफ बताया जा रहा है.
शोध के लेखक डेविड प्रोलोगो ने कहा कि, ‘अगर ये पूरी तरह सफल रहता है तो इससे मोटापे से ग्रस्त लोगों को बहुत मदद मिलेगी. हम लोग मोटापे से जूझ रहे लोगों की मदद के लिए काफी दिनों से प्रयास कर रहे हैं.’
इस शोध में और लोगों को शामिल किया जा रहा है जिससे इस इलाज का उन पर प्रयोग किया जा सके. ये शोध सोसाइटी ऑफ इंटरवेंशनल रेडियोलॉजी द्वारा किया गया है जो 2018 के वार्षिक मीटिंग में प्रस्तुत किया गया था.