आयोडीन नमक
इसमें सोडियम की मात्रा अधिक होती है, इसके ज्यादा सेवन से हाई बीपी की सम्भावना बढ़ती है, जिससे हार्ट अटैक हो सकता है, इसलिए काला या सेंधा नमक ही इस्तेमाल करें।
मैदा
मैदा बनाने के दौरान फाइबर निकल जाते हैं, इसलिए ज्यादा मैदा खाने से पेट से सम्बन्धित परेशानियाँ बनी रहती हैं।
Third party image reference
मशरूम
कच्चे मशरूम में कार्सिनोजेनिक कम्पाउंड होते हैं, जिससे कैंसर के चांस बढ़ते हैं, इसलिए मशरूम को अच्छे से उबालकर ही सेवन करना चाहिए।
कोल्ड ड्रिंक्स
इसमें शक्कर और फॉस्फोरस की मात्रा ज्यादा होती है, इसीलिए ज्यादा कोल्ड ड्रिंक्स पीने से ब्रेन डैमेज या हार्ट अटैक हो सकता है।
अंकुरित आलू
ऐसा आलू खाने से डायरिया हो सकता है, लगातार इसका सेवन करने से सिरदर्द या बेहोशी भी हो सकती है।


राजमा
कच्चे राजमा में ग्लाइकोप्रोटीन लैक्टिन होता है, जिससे उलटी या अपच की प्रॉब्लम हो सकती है, इसीलिए राजमा को हमेशा उबालकर खाना चाहिए।