आज हम आपको कश्मीर में मारे गए 15 लाख के इनामी आतंकी के बारे में बताएंगे, जिस पर सरकार ने 15 लाख का इनाम रखा था। तो आइए बताते हैं आपको इस खबर के बारे में –

सुरक्षाबलों ने गुरुवार को जम्‍मू कश्‍मीर में अलकायदा की पहचान बने अंसार-उल-गजवात-ए-हिंद के कमांडर जाकिर मूसा को मारकर बड़ी कामयाबी हासिल की है। मूसा को 2016 में हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर और पोस्‍टर ब्‍वॉय बुरहान वानी की मौत के बाद आतंकी संगठन का कमांडर बनाया गया था। हालांकि, बाद में उसने हिजबुल से दूरी बना ली थी। मूसा पर 15 लाख का इनाम घोषित किया गया था। उसे भी आतंकी संगठन में आरिफ और आदिल नामक दो आतंकी कमांडरों ने भर्ती किया था। इसने ही बुरहान को आतंकी बनाया था। जाकिर ने उन अलगाववादी नेताओं को मारने की धमकी दी थी जो कश्‍मीर को एक राजनीतिक मसला मानते हैं। 



अब ये खतरनाक आतंकी कमांडर मारा जा चुका है और भारतीय सेना ने इसका खत्म कर दिया है । इसके मरते ही अब कश्मीर में कई आतंकियों की कमर टूट चुकी है और कश्मीर के लोगो को भी अब इसके मरने के बाद से अपने इलाके में काफी शांति दिखाई दे रही है ।