भारत पर हमला करने में सक्षम मिसाइल के परीक्षण के बाद बोला पाक, पड़ोसी के साथ चाहता है शांति

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फिर एक बार केंद्र की सत्ता में वापसी करते नजर आ रहे हैं. इसी बीच पाकिस्तान ने भारत के साथ शांति वार्ता शुरू करने की इच्छा व्यक्त की है.

हालांकि पाकिस्तान ने इशारों ही इशारों में भारत को चेतावनी देते हुए कहा कि उसने सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल, शाईन II का परीक्षण शुरू किया है, जिसकी मारक क्षमता 1500 मील है और वह पारंपरिक और परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है.



भारत का नाम लिए बिना  की सेना ने कहा, “शाईन II एक अत्यधिक सक्षम मिसाइल है जो क्षेत्र में स्थिरता के लिए पाकिस्तान की रणनीतिक जरूरतों को पूरा करती है.”

बुधवार को भारतीय विदेश मंत्री  और उनके पाकिस्तानी समकक्ष शाह महमूद कुरैशी ने शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की एक बैठक में एक-दूसरे का अभिवादन स्वीकार किया और किर्गिज राष्ट्रपति से संयुक्त मुलाकात के दौरान एक दूसरे के अगल-बगल बैठे नजर आए.

इस मुलाकात के बात पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने कहा, “हमने उनके (सुषमा स्वराज) सामने स्पष्ट किया कि हम सभी मुद्दों को बातचीत के जरिये सुलझाना चाहते हैं और प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने पहले ही भाषण में कहा था कि अगर भारत एक कदम आगे बढाता है तो हम दो कदम आगे बढाएंगे.” कुरैशी ने कहा कि वह बातचीत के लिए तैयार हैं.

गौरतलब है कि इस कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले के बाद दोनों देशों के रिश्ते बेहद तनावपूर्ण हो गए थे. इस आतंकी हमले के बाद भारतीय सेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक की जिसके बाद दोनों देशों के रिश्तें और अधिक खराब हो गए. लोकसभा चुनाव के दौरान भी सरकार की ओर से लगातार पाकिस्तान का मुद्दा उठाया गया.

हालांकि भारत के लोकसभा चुनाव के दौरान पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने बयान देते हुए कहा कि अगर पीएम मोदी सत्ता में वापसी करते हैं तो दोनों देशों के बीच शांति बहाली की अधिक संभावना होगी.