नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने पश्चिम बंगाल (West Bengal) के कलिम्पोंग (Kalimpong) से एक जनसभा को संबोधित करते हुए विपक्ष पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि अगर केंद्र में बीजेपी (BJP) की सरकार दोबारा आती है तो, उनकी पार्टी कश्मीर से आर्टिकल 370 को हटा देगी।
बता दें कि जब से बीजेपी का घोषणापत्र आया है, तब से अनुच्छेद 370 हटाने को लेकर विपक्ष हमलावर है। बड़े-बड़े राजनेता आर्टिकल 370 को लेकर बयानवाजी कर रहे हैं। हाल ही में कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने बीजेपी को चेतावनी देते हुए कहा था कि, अगर कश्मीर से अनुच्छेद 370 (Article 370) को हटाया जाता है तो, राज्य की भारत से आजादी हो जाएगी।
अमित शाह ने एनआरसी (NRC) के मुद्दे को लेकर कहा कि बीजेपी सरकार देशभर में एनआरसी लाएगी और देश के ‘हर एक हिन्दू शरणार्थी’ को नागरिकता प्रदान करेगी। उन्होंने अपने भाषण में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने बालाकोट हवाई हमले (Balakot Air Strike) पर सवाल पर उठाने के ममता बनर्जी की आलोचना करते हुए कहा कि ये सिर्फ अल्पसंख्यकों को संतुष्ट करने के लिए है।
साथ ही अमित शाह ने ममता बनर्जी को कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री की मांग पर अपना रुख स्पष्ट करने को भी कहा। शाह ने कहा कि ‘ममता बनर्जी और विपक्षी नेता हवाई हमले से नाखुश हैं। वे सिर्फ अल्पसंख्यक समुदाय को खुश करने के लिए ऐसा कर रहे हैं। लेकिन मैं स्पष्ट तौर पर यह कहना चाहूंगा कि हम ऐसी ताकतों को जीतने नहीं देंगे।’ उन्होंने कहा केन्द्र में भाजपा की अगली सरकार बनाने के बाद हम कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटा देंगे।
बता दें कि लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल की 42 सीटों में दार्जिलिंग (Darjeeling) लोकसभा सीट काफी अहम मानी जा रही है। इस सीट को लेकर बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस के बीच काफी घमासान मचा हुआ है। ऐसे में तृणमूल कांग्रेस इस सीट को किसी भी कीमत पर हासिल करना चाहती है। गौरतलब है कि बीजेपी इस सीट से दो बार जीत दर्ज करा चुकी है।