रमजान खत्म होते ही सऊदी अरब के तीन प्रमुख स्कॉलर को मौत की सजा दे दी जाएगी। ये दावा किया गया एक मीडिया रिपोर्ट में। जानकारी के अनुसार मौत की सजा पाने वालों में अल अवदाह अंतरराष्ट्रीय प्रसिद्धि पाने वाले सुधारवादी हैं, अल करनी उपदेशक, अकेडमिक और लेखक हैं, जबकि अल ओमारी जाने माने ब्रॉडकास्टर शामिल हैं। इन पर कथित तौर से आतंकवाद के आरोप हैं।



मिड्ल ईस्ट आई रिपोर्ट में सरकारी सूत्रों और एक आरोपी के रिश्तेदार के हवाले से कहा गया है कि रमजान का महीना खत्म होते ही इन्हें दोषी करार दिया जाएगा और मौत की सजा सुना दी जाएगी। आधिकारिक रूप से इस मामले पर अभी सरकार की प्रतिक्रिया नहीं आई है। मीडिया रिपोर्ट में एक सरकारी सूत्र के हवाले से कहा गया है कि बीते महीने सऊदी में 37 लोगों को मौत की सजा देना एक ‘ट्रायल बैलून’ था। इससे ये अनुमान लगाया गया कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर होने वाला विरोध कितना असरकारी है ।