क्या आप जानते हैं कि पीएम नरेन्द्र मोदी ने चुनाव प्रचार में खर्च किये कितने रुपये

वाराणसी. लोकसभा चुनाव 2019 के अंंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार थम चुका है। सात राज्यों की 59 सीटों पर 19 मई को मतदान होगा। इनमे पूर्वांचल की 13 संसदीय सीटे भी शामिल है। 23 मई को चुनाव परिणाम से तय होगा कि देश में नयी सरकार किसकी बनने जा रही है। ऐसे में सबकी निगाहे पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस पर भी होगी। पीएम मोदी ने यहां पर रोड शो करने के बाद नामांकन किया था उसके बाद चुनाव प्रचार करने के लिए नहीं आये थे। बीजेपी नेता व कार्यकर्ता ही बनारस में पीएम मोदी के लिए चुनाव प्रचार कर रहे हैं। पीएम मोदी ने अपने चुनाव प्रचार पर कुल 24लाख रुपये खर्च किया है।

बनारस संसदीय सीट से बीजेपी ने पीएम नरेन्द्र मोदी को प्रत्याशी बनाया है जबकि अखिलेश यादव व मायावती के गठबंधन से शालिनी यादव मैदान में है। राहुल गांधी व प्रियंका गांधी की कांग्रेस ने पांच बार के विधायक रहे अजय राय को मैदान में उतारा है। चुनाव आयोग को सौंपे गये व्यय रिपोर्ट के अनुसार सबसे अधिक पैसा कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय ने खर्च किया है। अजय राय ने कुल 25 लाख रुपये चुनाव प्रचार में लगाये हैं। सपा प्रत्याशी शालिनी यादव ने 9 लाख 71 हजार रुपये चुनाव में खर्च किये हैं। यह आंकड़ा नामांकन से लेकर मतदान के दो दिन पहले का है। चुनाव आयोग के नियमानुसार नामांकन से लेकर मतदान तक तीन बार प्रत्याशियों को व्यय का ब्यौरा देना होता है।
सुप्रीम कोर्ट ने नहीं लगायी गिरफ्तारी पर रोक, फिर न्यायालय पहुंचे अतुल राय ने दिया यह प्रार्थना पत्र
प्रियंका गांधी के रोड शो पर एक लाख से अधिक की धनराशि खर्च हुई
प्रियंका गांधी के रोड शो पर एक लाख से अधिक की धनराशि खर्च हुई है। प्रत्याशियों का सबसे अधिक खर्च नुक्कड़ सभाओं में हुआ है जबकि उसके बाद वाहन व ईधन में धनराशि खर्च की गयी है। एक निर्दल प्रत्याशी ऐसा है, जिसने चुनाव प्रचार में एक भी रुपये खर्च नहीं किये हैं। महाराष्ट्र के निर्दल प्रत्याशी मनोहर आनंद राव पाटिल ने चुनाव आयोग को बताया कि उसके प्रचार पर एक भी रुपये खर्च नहीं हुए हैं। वह मंदिर में रहते हैं और सत्तू खाते हैं। पैदल ही चुनाव प्रचार करते हैं इसलिए एक भी रुपया खर्च नहीं हुआ है।
जब सीएम योगी ने पूछा कि मकान व गैस का कनेक्शन मिला तो महिलाओं ने कहा नहीं, फिर कहनी पड़ी यह बात