LS Poll: ममता बनर्जी की पार्टी में फिर बड़ी टूट ! दो विधायक मोदी के खेमे में जाने को तैयार, ये हैं वो विधायक…

कोलकाता
लोकसभा चुनाव में भाजपा के साथ बर्चस्व की लड़ाई लड़ रही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। चुनाव की अधिसूचना जारी होने के बाद से तृणमूल कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं के भाजपा में शामिल होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। पार्टी के और दो विधायक पार्टी से नाता तोडक़र भाजपा में शामिल होने जा रहे हैं। ममता से नाता तोडक़र मोदी के खेमे में शामिल होने की तैयारी में बैठे विधायक अगले 2 से 3 दिनों के भीतर पाला बदल लेंगे। ये दो विधायक है सुनील सिंह और मुकुल राय के पुत्र शुभ्रांशु राय। मालूम रहे कि सुनील सिंह तृणमूल से नाता तोडक़र बैरकपुर संसदीय क्षेत्र से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे अजुर्न सिंह बहनोई और शुभ्रांशु राय मुकुल राय के पुत्र हैं। सूत्रों के अनुसार नोवापाड़ा के विधायक सुनील सिंह पहले और बाद में अर्थात 24 को मोदी की सभा में शुभ्राशु राय भाजपा का दामन थामेंगे। हालांकि फिलहाल दोनों इस बारे कोई सीधा जवाब देने से बच रहे हैं।
अर्जुन सिंह के पाला बदल से बैरकपुर संसदीय क्षेत्र में तृणमूल कांग्रेस पहले से मुश्किल में पड़ी है। ऐसे में विधायक सुनील सिंह और शुभ्रांशु राय के पार्टी से अलग होना पार्टी की मुश्किलें और बढ़ा देगा। बैरकपुर संसदीय क्षेत्र में 6 मई को मतदान है। इससे पहले शुक्रवार को क्षेत्र के हालीशहर नगरपालिका के डेपूटी चेयरमैन देवाशीष दत्त उर्फ राजा दत्त एवं तीन पाषर्द तृणमूल कांग्रेस से नाता तोड़ कर भाजपा में शामिल हुए थे।

इनका कहना है
इसमें हर्ज क्या है। यहीं तो राजनीति है। अगर भाजपा काचरापाडा रेल कारखाना को चुस्त-दुरुस्त करने और वहां स्थानीय लोगों को नौकरी देने का वादा करे तो हम भाजपा में शािमल हो जाएंगे।