लोकसभा चुनाव 2019 के साथ आंध्र प्रदेश के विधानसभा चुनाव भी हुए, नतीजे 23 मई को आएंगे. हालांकि इससे पहले देश के सबसे भरोसेमंद आजतक- एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के मुताबिक आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू सरकार की विदाई होती नजर आ रही है. जबकि जगन मोहन रेड्डी के नेतृत्व में वाईएसआर कांग्रेस पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाती हुई दिख रही है.

आंध्र प्रदेश की सभी 175 विधानसभा सीटों पर पहले चरण यानी 11 अप्रैल को चुनाव हुए थे. आजतक एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के मुताबिक आंध्र प्रदेश की 175 विधानसभा सीटों में से वाईएसआर कांग्रेस को 119-135 सीटें मिलती दिख रही है. जबकि चंद्रबाबू नायडू की पार्टी टीडीपी को 39-51 सीटें मिल रही हैं. इसके अलावा पवन कल्याण की पार्टी जेएसपी को 1-3 सीटें और अन्य को 2 सीटें मिल रही है.

आंध्र प्रदेश की 175 सीटों के वोट शेयर के लिहाज से देखें तो वाईएसआर कांग्रेस को 48 फीसदी, टीडीपी को 40 फीसदी, जेएसपी को 6 फीसदी और अन्य को 6 फीसदी वोट मिल रहा है. ऐसे में अगर जातीय लिहाज से वोट शेयर को देखें तो वाईएसआर कांग्रेस को 54 फीसदी आदिवासी, 52 फीसदी दलित, 50 फीसदी मुस्लिम, 45 फीसदी ओबीसी, 42 फीसदी काप्पू और 47 फीसदी अन्य समुदाय का वोट मिल रहा है.
वहीं, टीडीपी को 30 फीसदी आदिवासी, 36 फीसदी दलित, 38 फीसदी मुस्लिम, 45 फीसदी ओबीसी, 39 फीसदी काप्पू और 41 फीसदी अन्य समुदाय का वोट मिल रहा है. इसके अलावा जेएसपी को 5 फीसदी आदिवासी, 6 फीसदी दलित, 6 फीसदी मुस्लिम, 5 फीसदी ओबीसी, 13 फीसदी काप्पू और 6 फीसदी अन्य समुदाय का वोट मिल रहा है.
बता दें कि 2014 में आंध्र प्रदेश के विधानसभा चुनाव में 175 सीटों में से टीडीपी को 115, वाईएसआर कांग्रेस को 70 सीटें जीतने में कामयाब रही थी.
बता दें कि, आजतक- एक्सिस माई इंडिया का एग्जिट पोल (Exit Poll) देश का सबसे भरोसेमंद एग्जिट पोल होता है. इसके 35 में से 34 एग्जिट पोल सबसे सटीक रहे हैं यानी 95 फीसदी सही अनुमान का रिकॉर्ड है.