भारत के चुनाव नतीजों पर नजर गढ़ाए हुए है पाकिस्‍तान, नहीं चाहता मोदी की वापसी

भारत में लोकसभा चुनाव के नतीजों पर पड़ोसी देश पाकिस्तान भी नजर गड़ाए हुए है। पाकिस्तान के लोग नहीं चाहते कि नरेंद्र मोदी सत्ता में वापसी करें जबकि विदेश में रहने वाले पाकिस्तानियों की राय अलग है।
दोनों देशों के बीच सीमा तनाव को देखते हुए पाकिस्तान की चुनाव परिणामों में दिलचस्पी हैरान नहीं करती। इसके अलावा पाकिस्तान में रहने वाले कई लोगों के भारत में पारिवारिक संबंध हैं। पाकिस्तान के नागरिकों का कहना है कि वह नहीं चाहते कि नरेंद्र मोदी दोबारा सत्ता में आएं।
इसके पीछे वजह भारतीय वायु सेना द्वारा पाकिस्तान में घुसकर आतंकी शिविरों पर सर्जिकल स्ट्राइक से घबराहट मानी जा रही है।
ज्यादातर पाकिस्तानी नागरिक नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार की वापसी के बारे में वहां के टीवी न्यूज़ चैनल के जरिए अपनी राय साझा कर रहे हैं और उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं। लाहौर के रहने वाले शाही आलम ने एक पाकिस्तानी टीवी चैनल से कहा, ‘मोदी को सत्ता में वापस नहीं आना चाहिए, उन्होंने पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक कराई।’
इमरान खान ने जताई थी मोदी के दोबारा पीएम बनने की इच्छा
एक दूसरे शख्स ऐजाज ने कहा, ‘मुझे मोदी के बहुमत के साथ दोबारा सत्ता में आने पर संदेह है। मुझे यकीन है कि उन्हें बहुमत नहीं मिलेगा जो पाकिस्तान के लिए अच्छा है।’
बता दें कि कुछ महीने पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि अगर मोदी 2019 का चुनाव जीतते हैं तो दोनों देशों के बीच शांति वार्ता के अवसर बेहतर होंगे।
विदेश में रहने वाले पाकिस्तानियों की राय अलग
लंदन में रहने वाले पाकिस्तानी बिजनेसमैन रियाज कहते हैं, ‘पाकिस्तान में रहने वाले लोगों के विचार विदेश में रहने वाले लोगों से अलग हैं। हमारा मानना है कि मोदी को सत्ता में दोबारा वापसी करनी चाहिए। यह पाकिस्तानी धरती से संचालित होने वाले आतंकवादी संगठनों के लिए एक निवारक के रूप में काम करेगा और पाकिस्तान सरकार पर हमारी मातृभूमि से आतंकवाद को खत्म करने के लिए दबाव डालेगा।’
-एजेंसियां

The post भारत के चुनाव नतीजों पर नजर गढ़ाए हुए है पाकिस्‍तान, नहीं चाहता मोदी की वापसी appeared first on updarpan.com.