घर का मुख्य द्वार हमेशा अंदर की ओर खुलना चाहिए, जाने वास्तु के अनुसार

नमस्कार दोस्तों, घर का मुख्य द्वार हमेशा अंदर की ओर खुलना चाहिए, जाने वास्तु के अनुसार…वास्तु में घर की सारी परेशानियों का समाधान बताया गया है, ऐसे में घर में किसी प्रकार की कोई समस्या आती है तो उसका समाधान वास्तु में मौजूद होता है। इसके लिए घर में मेन दरवाजे का विशेष ध्यान रखा जाता है।क्योंकि घर में सभी प्रकार की सकारात्मक व नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह इसी से होता है।

यहां से ही घर में सभी का प्रवेश होता है। घर में सुख-समृद्धि और उन्नति को बनाए रखने के लिए वास्तु के अनुसार दरवाजे से जुड़े इन नियमो का पालन करना जरूरी है। इसकी अनदेखी करने से घर में कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

वास्तु में माना जाता है कि घर का मुख्य दरवाजा हमेशा अंदर की ओर खुलना चाहिए, क्योंकि घर का दरवाजा अगर बाहर की ओर खुलता है तो इसे शुभ नहीं माना जाता है। ऐसा होने पर घर में धन का अभाव रहता है। इसके कारण धन घर पर नहीं टिकता है।
घर का मेन दरवाजा कभी भी खोलते बंद करते समय आवाज नहीं करना चाहिए, आवाज होने पर नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह घर में होता है।

घर का मेनगेट पूर्व या उत्तर दिशा में होना चाहिए। साथ ही घर के मेन दरवाजे की सीढ़ियां सीमने नहीं होनी चाहिए।
वास्तु में माना जाता है कि घर में मेन गेट को घर के बीच में नहीं बनाना चाहिए, ऐसा करने पर घर में परेशानी आती है।
घर के मुख्य द्वार के सामने खंभा, पेड़ या कोई दीवार नहीं होनी चाहिए न हीं इनकी छाया गेट पर पड़नी चाहिए इस बात का हमेशा ध्यान रखें ।